DIP Diet क्या है और इसके फायदे|DIP Diet Plan in Hindi

DIP Diet Plan In Hindi- DIP डाइट डॉ बिस्वरूप जी द्वारा तैयार की गयी एक ऐसी diet है जिससे जुकाम- बुख़ार से लेकर कैंसर जैसी बड़ी बिमारियों को ठीक किया जा सकता है वो भी बिना किसी दवाई के।

DIP डाईट यानी पूरी तरह से Natural Diet, जिसमें सैचुरेटेड फैट और तेल-मसाले वाले खाने की मात्रा बिल्कुल न के बराबर होती है। यह बिल्कुल जरूरी नहीं है कि इस डाइट को सिर्फ वही लोग लें, जो डायबिटीज, ब्लड प्रेशर या किसी बीमारी से परेशान हैं बल्कि DIP Diet Plan को हर कोई फ़ॉलो कर सकता है।

DIP Diet Plan का मेरा अनुभव :-
मैंने खुद इस DIP Diet Plan को फ़ॉलो किया और इसके लाजवाब फायदे मुझे मिले। पेट से सम्बंधित सभी तरह की समस्याएं कुछ ही दिनों में ठीक हो गई, इसके साथ ही शरीर पहले से ज्यादा एनर्जेटिक फील होता है।
और सबसे अच्छी बात इसको फ़ॉलो करने के बाद Weight Loss की Journy बहुत आसान हो गई।

DIP Morning Breakfast

सुबह के नाश्ते का नाम आते है हमारे दिमाग में चाय पराठा, आमलेट, पास्ता ऐसी बहुत सी चीजे याद आने लगती है। लेकिन DIP Diet का Morning Breakfast थोड़ा हट के है साथ ही बहुत रसीला और मजेदार भी है जिसको खाने के बाद आपकी बॉडी आपसे खुद बोलगी। आज तो………………………….मजा आ गया।

इसमें आपको कोई 3 से 4 तरह के मौसमी फल लेने है और उनको सुबह के नाश्ते में खाना है जैसे की-

  • आम
  • अंगूर
  • केला
  • सेब
  • अनार
  • पपीता
  • अमरुद
  • तरबूज

कोई भी अपनी पसंद के फल जो आपको आसानी से मिल जाए, उनको आप ले सकते है।

नाश्ते में कितने फल खाएं?

आप अपने वजन को पहले 10 से गुणा कीजिये फिर जो नंबर आये। कम से कम उतने ग्राम फल आपको खाने है। उदाहरण के लिए-

यदि आपका वजन 50 किलो है तो 50 को 10 से गुणा किया तो हो गए 500
अब 500 के आगे बस ग्राम लगा देना अर्थात 50 किलो के व्यक्ति को कम से कम 500 ग्राम फल खाने हैं।

ध्यान दें-

12 बजे से पहले आपको सिर्फ फल ही खाने है आपके वजन के हिसाब से तय की गई मात्रा को तो हर हाल में खाना ही है और अगर उसके बाद भी आपको भूख लगती है तो आप फलों की मात्रा बढा सकते है लेकिन 12बजे से पहले फल ही खाएं।

DIP Diet Lunch

DIP Diet Lunch साधारण लंच की तरह नही होता है। क्योंकि इसमें आपको 2 थाली मिलती है। इसमें आपको 3 से 4 तरह की सब्जी खानी होती है। अब सवाल आता है कि कितनी मात्रा में खाए :-

पहली थाली

सबसे पहले आप अपने वजन को 5 से गुणा कीजिये और फिर जो नंबर आये उसके आगे ग्राम लगा दीजिये। बस इतने ग्राम सब्जी आपको पहली थाली में लेनी है। उदाहरण के लिए-

यदि आपका वजन 50 किलो है तो 5 से गुणा करने के बाद हुआ 250 अर्थात 250 ग्राम कच्ची सब्जी (सलाद) लेनी हैं।

  • खीरा, ककड़ी
  • गाजर
  • चुकुन्दर
  • शलजम
  • मूली
  • टमाटर

कोई भी कच्ची सब्जी जो आपको पसंद हो वो आप सलाद में ले सकते है। पहली थाली के बाद अब दूसरी थाली की तरफ बढ़ते हैं।

दूसरी थाली

इस थाली में आप वो सब ले सकते हैं जो आप रोजाना दोपहर के खाने में लेते है। जैसे रोटी, चावल, सब्जी या दाल। खाने की मात्रा आप अपनी भूंख के अनुसार ले सकते हैं लेकिन एक बात बहुत ध्यान देने वाली ये है कि आपको सबसे पहले पहली प्लेट पूरी खत्म करनी है और उसके बाद ही दूसरी प्लेट खाना शुरू करें।

अगर पहली प्लेट खाने के बाद पेट भर जाये तो दूसरी प्लेट न खाएं। लेकिन सबसे पहले पहली प्लेट ही खत्म करें। शुरआत में ऐसा हो सकता है कि आपका पेट जल्दी भर जाए लेकिन बाद में आप दोनों प्लेट बड़ी आसानी से खाना शुरू कर देंगे।

दूसरी प्लेट में जो भी खाना हो वो घर पर बना हुआ हो तो बहुत अच्छा है और कोशिश करें खाने में पड़ने वाले साधारण नमक की जगह सेंधा नमक का प्रयोग करें और सब्जी को बनाते समय तेल का बहुत कम प्रयोग करें।

DIP Dinner

जब आप DIP Diet Plan को अपनी life का हिस्सा बनाते है तो आपको कोई भी ज्यादा मेहनत करने की आवश्यकता नही है। इसके लिए आपको रात के खाने में कुछ भी अलग बनाने की जरूरत नही है। जैसे कि सूप, दलिया या कुछ और।

इसमें भी आपको 2 थाली वाला तरीका ही फ़ॉलो करना है। सबसे पहले सलाद वाली प्लेट को पूरा खत्म करना है उसके बाद दूसरे प्लेट में आप घर में बनने वाले भोजन जैसे- दाल चावल, सब्जी, रोटी, ले सकते है।

DIP Diet Plan के फायदे

ध्यान दे:-

आपको रात का खाना आपको 6 से 8 बजे तक कर लेना है। उसके बाद आपको कुछ भी नही खाना है। यही दिनचर्या आपको हर रोज फ़ॉलो करनी है।

1- Weight Loss के लिए सबसे फायदेमंद

अगर आप भी अपने weight को आसानी से कम करना चाहते है तो DIP Diet आपके लिए एक बेहतर ऑप्सन है इससे न सिर्फ आपका वजन कुछ ही दिनों में कम हो जाता है बल्कि आपके शरीर में किसी तरह की कोई कमजोरी या विटामिन्स की कोई कमी भी नही होती है DIP Diet weight loss के लिए sabse sasta diet plan है।

2- Cholestrol को कम करता है

यह DIP Diet Plan शरीर में Colestrol के स्तर को कम करता है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक Colestrol बढ़ने का सबसे बड़ा कारण सैचुरेटेड फैट है। लेकिन DIP Diet में ऐसी चीजों को नहीं शामिल किया जाता, जिनमें जरा भी सैचुरेटेड फैट पाया जाता हो। लगातार 2 महीने तक DIP Diet लेने से शरीर में Cholesterol का स्तर न केवल घटता है, बल्कि संतुलित भी हो जाता है।

3- High Blood Pressure को कंट्रोल करता है

एक अध्ययन के मुताबिक DIP Diet बच्चों और वयस्कों दोनों उम्र के लोगों में High Blood Pressure को रोकने में मददगार है।

4- Blood Sugar को कम करता है

यह Diabities के मरीजों के लिए बहुत कारगर है। DIP Diet Plan से शुगर बिल्कुल नहीं बढ़ता, जबकि नॉर्मल डाइट से तमाम सावधानियों के बाद भी शुगर लेवल बढ़ जाता है। जिनका शुगर लेवल काफी बढ़ गया हो, उन्हें तुरंत DIP Diet लेना चाहिए। एक अध्ययन के मुताविक यह बात सामने आई है कि इससे Blood Sugar कंट्रोल हो जाता है।

5- हड्डियों के लिए फायदेमंद

हड्डियों के लिए भी DIP Diet Plan बहुत ही फायदेमंद है। फलों और सब्जियों से हमे नेचुरल Calcium और Vitamins हमारे शरीर को भरपूर मात्रा मिलता है। जिससे गठिया, सूजन और हड्डियों का भंगुर होना जैसी बहुत सी समस्याएं नही होती है।

6- Heart Disease के लिए भी फायदेमंद

DIP Diet Plan से ब्लड प्रेशर के साथ-साथ शरीर का Sugar Level और Cholesterol भी कंट्रोल में रहता है। इन सभी चीजों पर हमारे Heart की सेहत निर्भर करता है। आपके शरीर में सैचुरेटेड फैट और Sugar की मात्रा जितनी संतुलित होगी, आपका ह्रदय उतना ही स्वस्थ रहेगा।

DIP Diet Plan के नुकसान

अब आपके मन में ये सवाल भी होगा कि क्या DIP Diet Plan फॉलो करने का कोई नुकसान तो नही है। तो जान लीजिये DIP Diet Plan follow करने का कोई भी नुकसान नहीं है। क्योकी नुकसान तो तब होते हैं जब हम अपने शरीर को कुछ गलत खिलाते है। प्रकति जो कुछ हमे खाने के लिए सब्जी और फल देती हैं। वह सब सभी तरह की पौष्टिक तत्वों से भरपूर होते हैं।

बिस्वरूप जी साइड इफेक्ट को अपनी भाषा में साइड बेनिफिट्स (Side Benefits) बोलते हैं। कि आप जिस भी बीमारी को ठीक करनें के लिए इसका सेवन कर रहे हो उसके साथ आपके शरीर की अन्य बीमारियां भी खत्म हो जायेगी। कुल मिलाकर ये 100% सुरक्षित है।

DIP Diet में क्या ना खाएं

DIP Diet Plan In hindi को जब आप फ़ॉलो करते ही तो आपको नीचे बताई गयी इन चीजों को खाने से परहेज करना है जिससे आपको DIP Diet Plan का पूरा फायदा मिल सके।

  • जानवरों से आने वाली कोई भी चीज जैसे- दूध, दही, मक्खन, पनीर, घी, मांस, मछली, अंडे आदि।
  • किसी भी तरह के मल्टीविटामिन टॉनिक / कैप्सूल
  • फैक्ट्रियों से आने वाली सभी तरह के पैकेट बंद चीजे जैसे- नमकीन, चिप्स, कोल्ड्रिंक, आदि और इसके साथ ही बाहर के सभी तरह के जंक फ़ूड को खाने से परहेज करना है।
  • कोशिस करें हर दिन कम से कम 20 से 30 मिनट सुबह की धुप लें।

निष्कर्ष……

तो दोस्तों आपको ये लेख DIP Diet Plan In hindi कैसा लगा है। उम्मीद है आपको DIP Diet Plan के सभी पॉइंट अच्छे से समझ आगये होंगे, लेकिन इसका पूरा फायदा आपको तभी मिलेगा। जब आप DIP Diet Plan को फ़ॉलो करना शुरू करेगे। मुझे उम्मीद है आपको भी मेरी तरह इस DIP Diet के बेहतरीन फायदे मिलगे और आप एक बार इसको फ़ॉलो करने के बाद बहुत खुश होने वाले हैं।

तो अपने डाउट और अनुभव को हमारे साथ comment के माध्यम से जरुर साझा करने ……………….धन्यवाद

DIP Diet फुल फॉर्म क्या है?

DIP Diet फुल फॉर्म है “Disciplined & Intelligent Person’s Diet”

क्या वजन कम करने के लिए DIP डाइट कारगर है?

DIP Diet वजन कम करने का एक बेहतरीन विकल्प है बिना किसी साइड इफेक्ट्स के क्यूंकि ये 100% प्राकर्तिक है।

DIP Diet कौन ले सकता है?

ये इसकी सबसे ख़ास बात है की इसे किसी भी उम्र का व्यक्ति चाहे बच्चा हो बूढा ले सकता है।

Leave a Comment