सबसे असरदार लम्बाई बढ़ाने के घरेलू उपचार|Lambai Badhane Ka Tarika

आप जानेगे- 18 के बाद Lambai Badhane Ka Tarika, Height Badhane ki Exercise, Height Badhane Ke Liye Kya Khaye, 18 के बाद लड़कियां अपनी लम्बाई कैसे बढ़ाये?

लुक्स की बात करें तो हर व्यक्ति यही चाहता है कि उसकी अच्छी हाइट हो। जंहा सही हाइट से आपके लुक्स पर अच्छा प्रभाव पड़ता है, वहीं हाइट आपके व्यक्तित्व को भी निखारती हैं। ह्यूमन ग्रोथ की बात करें तो आम तौर पर 18 वर्ष तक हर व्यक्ति की हाइट बढ़ती है।

अगर आप 18 साल की सीमा को पार कर चुके है, लेकिन काश सिर्फ 1/2 इंच और लंबे होते, ऐसा सोच रहे है तो यहां बताये गये Lambai Badhane Ka Tarika को अपना कर लम्बाई को बढाया जा सकता है।

Table of Contents

लम्बाई को प्रभावित करने वाले कारक

शोध के अनुसार आपकी लम्बाई का लगभग 60% से 80% आपकी अनुवांशिकता पर निर्भर करता है। जीनोटाइपिंग और डीएनए दोनों ही लम्बाई को समान रूप से प्रभावित करते है।

लगभग 700 जीन वेरिएंट की भागीदारी किसी व्यक्ति की लम्बाई को निर्धारित करती है। कुछ जीन ग्रोथ को प्रभावित करते हैं, जबकि अन्य ग्रोथ हार्मोन पर प्रभाव डालने का काम करते हैं। इसलिए अलग अलग जगह पर रहने वाले लोगों के डीएनए के कारण सभी की अलग-अलग औसत ऊंचाई होती है।

लम्बाई बढ़ाने के घरेलु उपाय

अगर आपकी भी Lambai Badhane Ka Tarika खोज रहे है की नाचुरल तरीके से लम्बाई कैसे बढ़ाया जाए तो नीचे बताये गये तरीको को अपना कर कुछ ही समय में 2 से 4 इंच तक लम्बाई को बढाया जा सकता है। ये सभी उपाय कारगर तरीके से शरीर की लम्बाई को बढ़ाने में मदद करते है।

1. संतुलित आहार का सेवन करें

पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थ यह सुनिश्चित करेंगे कि आपकी विकास क्षमता अधिकतम होगी। अपने आहार में उन खाद्य पदार्थों को शामिल करना चाहिए जो बढ़ाने, हड्डियों और जोड़ों को मजबूत करने में मदद करते हैं।

  • पालक
  • चुकंदर
  • दाले
  • फल
  • डेरी प्रोडक्स
  • अंडा, मछली, आदि

अध्ययनों के अनुसार संतुलित आहार एक अच्छी लम्बाई के लिए महत्पूर्ण कारकों में से एक है। समय के साथ यह देखा गया है कि दुनिया की निम्न/मध्यम अर्थव्यवस्थाओं में रहने वाले लोगों की ऊंचाई में अंतर आया है।

हड्डियों की मजबूती के लिए कैल्शियम, मैग्नीशियम और विटामिन डी सूक्ष्म पोषक तत्व हैं। जो लम्बाई बढ़ाने के लिए भूमिका निभाते हैं, जैसे की प्रोटीन टिश्यू डैमेज को ठीक करने में मदद करते हैं और कैल्शियम हड्डियों को मजबूत बनाये रखने में मदद करता है।

कुछ अध्ययन यह भी कहते हैं कि प्रोबायोटिक्स बच्चों में विकास को बढ़ावा देते हैं। ये एक आवश्यक पोषक तत्व हैं जो प्रारंभिक वर्षों के दौरान लम्बाई को बढ़ाने में सहायक होता हैं।

2. भरपूर नींद लेना है जरुरी

एक अच्छी नींद न सिर्फ आपके मन को सकारात्मक रखती है बल्कि आपकी लम्बाई के लिए भी एहम भूमिका निभाती है। पिट्यूटरी ग्रंथियां रात में वृद्धि हार्मोन का स्राव करती हैं। ये हार्मोन हड्डियों को लंबा और मोटा करने का काम करते हैं। जिससे आपकी लम्बाई अच्छे से बढ़ पाती है

नियमित रूप से आपकी नींद के पैटर्न को बदलना और कम नींद लेने से आपकी लम्बाई में गलत प्रभाव पड़ सकता है। रीढ़ को सीधा रखने के लिए सोने की मुद्रा पर विशेष ध्यान देना आवश्यक है। लगातार गलत स्थिति में सोने से रीढ़ और गर्दन में खिंचाव आ सकता है, जिससे उसकी लम्बाई रुक ​​सकती है।

एमोरी विश्वविद्यालय और वर्जीनिया विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने 23 बच्चों पर एक अध्ययन किया। उन्होंने अपने माता-पिता से सोने से पहले अपने बच्चों का विवरण दर्ज करने को कहा।

शोधकर्ताओं ने पाया कि हर बार जब बच्चा बिना किसी बाधा के सोता है तो विकास दर औसतन लगभग 43 प्रतिशत बढ़ जाती है। साथ ही, बच्चे के सोने के हर अगले घंटे में यह 20 प्रतिशत बढ़ जाता है।

3. सही मुद्रा का अभ्यास करें

खराब पोस्चर आपको असल में अपनी लम्बाई से छोटा दिखाता है। इसलिए हमेशा सीधे बैठे और खड़े होने पर ध्यान दें ऐसा करने मात्र से आपकी लम्बाई में फर्क दिखने लगेगा।

स्वाभाविक रूप से आपकी पीठ तीन जगहों पर मुड़ी होनी चाहिए। यदि आप नियमित रूप से झुककर चलते और बैठते हैं, तो इससे आपकी गर्दन और पीठ में दर्द हो सकता है।

आप कैसे खड़े होते हैं, बैठते हैं और सोते हैं, इस पर ध्यान देना महत्वपूर्ण है। अपने डॉक्टर से बात करें कि आप एर्गोनॉमिक्स को अपनी दिनचर्या में कैसे शामिल कर सकते हैं। आपकी आवश्यकताओं के आधार पर, एक स्टैंडिंग डेस्क या मेमोरी फोम तकिया आपके आसन को सही करने के लिए आवश्यक हो सकता है।

4. व्यायाम करना शुरू करें

सही खान पान के साथ ही प्रतिदिन व्यायाम भी एक Lambai Badhane Ka Tarika है व्यायाम करने से शरीर की मंपेशियों में खिचाव उत्पन्न होता है जो लम्बाई को बढ़ाने में मदद करता है इसलिए जल्दी लम्बाई बढ़ाने के लिए Exercise बहुत महत्वपूर्ण है।

नीचे कुछ महत्वपूर्ण Exercise के बारे में बताया गया है जो लम्बाई बढ़ाने में बहुत असरदार है इसके साथ ही आप अपनी बैठने और खड़े होने के तरीके को बेहतर बनाने और लम्बाई बढ़ाने के लिए Exercise का अभ्यास कर सकते हैं।

लम्बाई बढ़ाने वाली Exercise

अगर आप पूछें- एक्सरसाइज से हाइट कैसे बढ़ाएं? उत्तर सीधा है। अपनी रीढ़ की हड्डी के लचीलेपन को बढ़ाना, अपनी रीढ़ की मांसपेशियों में ताकत का निर्माण करना, अपने पैर की मांसपेशियों को पूरी तरह से खींचना आपकी इष्टतम मुद्रा को बनाए रखता है और आसानी से आपकी ऊंचाई को बढ़ाने में सुधार करता है।

लटकना है फायदेमंद

अपने शरीर को अपने हाथों के सहारे लटकाने से आपको अपनी मांसपेशियों को फैलाने में मदद मिलती है। आम तौर पर, लोग एक बार लटकाते हैं। हाइट बढ़ाने के लिए इस एक्सरसाइज को करने के लिए दो या तीन पुल-अप्स करें।

इसके लिए कोई भी पेड़ की शाखा या रॉड के सहारे लटक सकते है। सुनिश्चित करें कि आपने जिसका सहारा लिया है वो मजबूत है और आपके पूरे शरीर का वजन ले सकता है।

पेल्विक शिफ्ट

आप आमतौर पर दिन में कितने घंटे बैठते हैं? क्या आप जानते हैं कि बहुत लंबे समय तक बैठने से आपकी बढती लम्बाई प्रभावित होती है? लंबे समय तक बैठे रहने के कारण रीढ़ की हड्डी का आकार बदलता है और इससे संबंधित मांसपेशियों में असंतुलन होता है जो आपके शरीर के विकास को प्रभावित करता है। बैठने के नकारात्मक परिणामों से बचने के लिए पेल्विक शिफ्ट हाइट बढ़ाने के लिए सबसे अच्छे व्यायामों में से एक है।

साइड स्ट्रेच (Lambai Badhane Ka Tarika)

साइड स्ट्रेच से मांसपेशियां में खिचाव होता है और वो लंबी होने लगती है। ऊंचाई बढ़ाने के लिए यह व्यायाम विशेष रूप से इंटरकोस्टल मांसपेशियों को फैलाता है और मजबूत करता है। साइड स्ट्रेच करते समय, ध्यान दें कि आप महसूस करें कि आपकी मांसपेशियां आपकी पीठ के निचले हिस्से से लेकर आपके कंधे तक खिचाव महसूस करे।

कोबरा पोस

कोबरा पोस रीढ़ को मजबूत करते हुए कंधों, छाती और पेट की मांसपेशियों को लम्बा करने में मदद करता है इसको करने के लिए सबसे पहले
अपने चेहरे को नीचे करके फर्श पर लेट जाएं।
अपनी हथेलियों को अपने कंधों के नीचे फर्श पर रखें।
एक ऊंचा कोण बनाने के लिए अपनी रीढ़ को झुकाते हुए अपनी ठुड्डी को ऊपर उठाएं।
जितना हो सके पीछे की ओर झुकें और कम से कम 30 सेकंड के लिए इसी स्थिति में रहें।
शुरुआत में व्यायाम के साथ शुरू करने के लिए पांच प्रतिनिधि काफी अच्छे होने चाहिए।

तैराकी है असरदार

तैरना आपको अपने पैरों, शरीर और बाहों को पूरी तरह से उपयोग करने में सक्षम बनाता है और इस प्रकार, मांसपेशियों की ताकत विकसित करता है। खासकर अगर आप अपने वर्कआउट सेशन के दौरान गर्मी और पसीने से बचना चाहते हैं तो स्विमिंग सबसे बेस्ट है। ब्रेस्टस्ट्रोक आपकी हाइट बढ़ाने के लिए सबसे उपयुक्त स्विमिंग स्टाइल है।

भूमि तैराकी के फायदे

क्या आपने कभी पूल से बाहर तैरने के बारे में सोचा है? भूमि तैराकी को सामान्यतः शुष्क भूमि प्रशिक्षण कहा जाता है। इस एक्सरसाइज का मकसद कद बढ़ाना और शरीर की मांसपेशियों के लचीलेपन में सुधार करना है। व्यायाम को थोड़ा और कठिन बनाने के लिए आप अपने पेट के नीचे एक स्टेबिलिटी बॉल रखकर व्यायाम कर सकते हैं

इसे करने के लिए- समतल सतह पर लेट जाएं और अपने पैरों को एक-एक करके ऊपर उठाएं।
अपने हाथों को सामने की ओर फैलाएं और तैराकी के समान अपनी स्थिति बना लें। आसन वही होना चाहिए सिवाय इसके कि आप जमीन पर हों और पानी में नहीं।

सूर्य नमस्कार

सूर्य नमस्कार सबसे लोकप्रिय लम्बाई बढ़ाने वाला योगाभ्यास है जिसमें 12 विभिन्न योग मुद्राएं शामिल हैं। प्रत्येक मुद्रा आपकी पीठ, कंधों, पैरों को फैलाती है और आपकी ऊंचाई बढ़ाने में आपकी मदद करती है।

साइकिल चलाना है फायदेमंद

यदि आप अपनी किशोरावस्था में हैं, तो साइकिल चलाना शुरू करने के लिए यह सही उम्र है। अपनी किशोरावस्था के दौरान व्यायाम करने से आपकी ऊंचाई में महत्वपूर्ण अंतर आ सकता है।

टीनएज वह समय होता है जब ज्यादातर लोग अधिकतम ऊंचाई हासिल कर लेते हैं। किशोरों के लिए अपने पैरों को फैलाने और अपने शरीर में कुछ इंच जोड़ने के लिए साइकिल चलाना सबसे अच्छा व्यायाम है।

जम्प स्क्वैट्स एक्सरसाइज

जंपिंग एक्सरसाइज, जैसे जंप स्क्वैट्स, हाइट बढ़ाने के सबसे अच्छे तरीकों में से एक हैं। यह निचले शरीर की मांसपेशियों और जोड़ों की कंडीशनिंग का समर्थन करता है और शरीर की ऊंचाई में सुधार करता है
इसको करने के लिए
अपने शरीर को आगे की ओर रखते हुए, एक सामान्य खड़े होने की स्थिति से शुरू करें।
अपने घुटनों को मोड़ते हुए अपने कूल्हों को पीछे और नीचे करके अपने आप को स्क्वाट में कम करें।
कूदते समय स्क्वाट से बाहर आते ही अपने पैरों के साथ कठिन ड्राइव करें।

कोबरा पोस

क्या आप जानते हैं कि कोबरा पोज लम्बाई बढाने के लिए कितना असरदार है क्योंकि यह पोज मस्पेशियों में खिंचाव को प्रेरित करता है? जब अपना सिर उठाकर गर्दन को फैलाते हैं तो यह मुद्रा नाग के समान होती है। यह एक्सरसाइज खासतौर पर आपके एब्स को स्ट्रेच करने के लिए मशहूर है

इसको करने के लिए
अपनी हथेलियों को कंधे की ऊंचाई पर फर्श पर दबाते हुए फर्श पर अपना चेहरा नीचे करके लेटें।
जितना हो सके अपनी पीठ को मोड़ने के लिए अपनी बाहों को फैलाते हुए अपने सिर को छत की ओर उठाएं।
30 सेकंड के लिए इस स्थिति में रहें और आराम करें।

जॉगिंग के फायदे

यदि आप अपने पैरों को लंबा करने के लिए बेताब हैं तो जॉगिंग लम्बाई बढ़ाने के लिए एक अच्छा व्यायाम है जिसे आप मिस नहीं कर सकते। जॉगिंग आपके पैर की हड्डियों को प्राकृतिक रूप से विकसित करने में मदद करती है और उन्हें मजबूत बनाती है। जॉगिंग आपकी लंबाई बढ़ाने के लिए जादू की तरह काम करती है, खासकर जब यौवन के दौरान या उसके ठीक बाद इसका अभ्यास करें।

कूदने के फायदे

यदि व्यायाम करना कठिन काम है तो कुछ ऐसा करें जो आपके फिटनेस लक्ष्यों को प्राप्त करने के दौरान आपको कुछ मज़ा करने में मदद करे। कूदना एक ऐसी चीज है। जितनी बार आप कूदेंगे उतनी ही अधिक संभावना है कि आप अपने पैरों को लंबा करने में सफल होंगे। कूदना कई तरीकों से किया जा सकता है – ट्रैम्पोलिन कूदना या रस्सी कूदना। दोनों आपकी अधिकतम ऊंचाई तक पहुंचने में आपकी मदद कर सकते हैं।

दोस्तों माना कि लम्बाई हमारे व्यक्तित्व पर सकारात्मक असर डालती है लेकिन ऐसा नही है की जिन लोगों की लम्बाई थोड़ी कम होती है। वे सभी अपने जीवन में सफलता नही प्राप्त करते, इसलिए प्रयास करना गलत नही है लेकिन यदि हमारी लम्बाई में कुछ कमी रहे भी जाती है तो हमे कभी भी निराश नही होना चाहिए।

खुद से हमेशा प्यार करें आपकी स्कार्तामकता ही आपके जीवन की असली ख़ुशी है इसलिए कभी किसी कमी को लेकर निराश न हों हमेशा खुश रहें।

क्या 18 साल के बाद हाइट बढ़ाना संभव है?

18-20 वर्ष की आयु तक पहुंचने के बाद ऊंचाई बढ़ना थोड़ा मुश्किल हो जाता है। क्योंकि लड़कियों के लिए, आमतौर पर, जब तक वे 14-15 वर्ष की होती हैं, तब तक ऊंचाई अपनी पूरी क्षमता तक पहुंच जाती है।
लड़कों के लिए, किशोरावस्था के दौरान लंबाई की क्षमता को अधिकतम किया जा सकता है।
विटामिन डी और कैल्शियम की कमी से हड्डियां कमजोर हो सकती हैं, जिससे पूरी ऊंचाई तक नहीं पहुंच पाते है। हालांकि, ऊंचाई काफी हद तक आनुवंशिकीपर भी निर्भर करती है। लेकिन सही आहार और जीवन शैली के साथ लम्बाई को बढ़ाया जा सकता है ।

हाइट बढ़ाने के लिए क्या खाएं?

लम्बाई बढ़ाने में पोषण एक महत्वपूर्ण कारक है, और जिन खाद्य पदार्थों में विटामिन बी 12, विटामिन डी, कैल्शियम और प्रोटीन होता है वे लम्बाई बढ़ाने में मदद करते हैं। तो, डेयरी, मछली, बीन्स और फलियां इन के सेवन से लम्बाई को बढ़ाया जा सकता हैं।

क्या व्यायाम से लम्बाई बढाईजा सकती है?

व्यायाम वृद्धि हार्मोन को ट्रिगर करता है। साथ ही, मध्यम कार्डियो मुद्रा को संरेखित करने में भी मदद करता है। जिससे, व्यायाम आपकी लम्बाई बढ़ाने में मदद करता है।

लंबाई बढ़ाने में जेनेटिक्स की कितनी भूमिका होती है?

अंतिम ऊंचाई निर्धारित करने में आनुवंशिकी सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है जो हमेशा आपके साथ रहेगी। सभी मापदंडों में आनुवंशिकी का भारांक 60-80% के करीब है। शेष पर्यावरणीय कारक हैं जैसे पोषण, जीवन शैली, समग्र स्वास्थ्य, यौवन और शारीरिक गतिविधियाँ।

क्या हाइट बढ़ाने का कोई प्राकृतिक उपाय है?

दुर्भाग्य से, कोई प्राकृतिक उपचार या जादू की गोलियां नहीं हैं जो किसी की ऊंचाई बढ़ा सकती हैं। कम उम्र से ही एक अच्छी जीवनशैली और उचित पोषण को शामिल करके ऊंचाई को बढ़ाया जा सकता है। इसलिए बच्चों को कम से कम 90 मिनट व्यापक शारीरिक गतिविधियों में बिताना चाहिए जैसे कि बाहर खेलना या खेल गतिविधियों में शामिल होना और योग और स्ट्रेच करना।

Leave a Comment